Senior Advocate Rajeev Dhavan Draws Praise for Arguments in Ayodhya Verdict.

Published : Nov 28, 2019 02:57 pm | By: News Mindset

Senior Advocate Rajeev Dhavan Draws Praise for Arguments in Ayodhya Verdict.

24 views

Rajiv Dhawan, who was a lawyer for the Muslim side in the Ayodhya case hearing, has been severely criticized for his statement about Hindus.


Rajiv Dhawan, who was a lawyer for the Muslim side in the Ayodhya case hearing, has been severely criticized for his statement about Hindus. However, Rajiv says in his defense that his statement has been distorted.
According to ANI, Rajiv Dhawan had given a statement that 'peace and harmony in the country spoil Hindus and not Muslims'. Not only this, he also said about the decision that injustice has been done to Muslims.


Nationalmindset TV Analysis

Prediction        Result
View More

राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर चाक चौबंद तैयारियां

मध्य प्रदेश: 8वीं पास पढ़ा रहा था सरकारी स्कूल में, कहा मिलते थे 4 हजार रु. महीना

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने किया स्वराज कौशल पर पलटवार

'महाराष्ट्र में हुए गैर-भाजपा नेताओं के फोन टैप'

संजीव बालियान के बिगड़े बोल, कहा- पश्चिमी उत्तर प्रदेश के छात्रों का JNU और जामिया में 10 फीसदी आरक्षण करवा दें, वह सबका इलाज कर देंगे

सहयोगी पार्टी छोड़ने और किसी अन्य पार्टी के साथ जुड़ने के लिए स्वतंत्र: नीतीश कुमार

केंद्रीय मंत्री संजीव बाल्यान का विवादित बयान,कहा वेस्ट यूपी वाले कर देंगे राष्ट्र विरोधी नारे लगाने वालों का इलाज

भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध की आशंका को लेकर सुखोई-30 तैनात

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में साकेत कोर्ट ने सुनाई सजा

जेपी नड्डा बने BJP के 11वें राष्ट्रीय अध्यक्ष

पीएम मोदी का जन्मदिन आज, देश-विदेशों से मिली बधाईयां

चांद पर उतरते समय विक्रम का संपर्क टूटा

तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग मामले में एक और खबर ने मचाई सनसनी

भारत की दो महिलाओं ने चंद्रयान-2 मिशन में निभाया अहम रोल

पटाखा फैक्ट्री में लगी आग

असम में अस्पताल की बड़ी लापरवाही

आज चाँद पर उतर जायेगा भारत का यान

काला बाजारी से निपटने के लिए पुलिस ने खोले अलग विभाग

चूड़ियों से गणेश की मूर्ति तैयार

जिंदाबाद और अमर रहे के नारे शहीदों के परिवारों और बच्चों के खाली पेट नहीं भर सकते ।”