HM Amit Shah has introduced CAB in the Lok Sabha

Published : Dec 09, 2019 05:33 pm | By: National Mindset News

HM Amit Shah has introduced CAB in the Lok Sabha

20 views

Union Home Minister Amit Shah has introduced a bill giving citizenship to non-Muslim refugees in the Lok Sabha.


Union Home Minister Amit Shah has introduced a bill giving citizenship to non-Muslim refugees in the Lok Sabha. the Lok Sabha has voted in favor of the introduction of the bill in the parliament. The bill passed with 293 members of Lok Sabha voting Aye and 82 members voting No.
The opposition parties including Congress, TMC, etc have opposed the Citizenship Amendment Bill tooth and nail asserting that the bill is anti-Muslim. If the citizenship amendment bill becomes law, then the people of Hindu, Sikh, Christian, Parsi, Jain, and Buddhism who came here due to religious persecution from India's neighboring Pakistan, Afghanistan, and Bangladesh will easily get Indian citizenship.


Nationalmindset TV Analysis

Prediction        Result
View More

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में साकेत कोर्ट ने सुनाई सजा

जेपी नड्डा बने BJP के 11वें राष्ट्रीय अध्यक्ष

निर्भया गैंगरेप केस में आरोपी पवन पर सुनवाई, SC ने जताई कड़ी नाराजगी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज कर रहे हैं नामांकन

इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने की राहुल गांधी की आलोचना

जम्मू-कश्मीर के डीएसपी देवेंद्र सिंह के खिलाफ यूएपीए (UAPA) के तहत मामला दर्ज

वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंग पर भड़कीं निर्भया की मां आशा देवी

पूर्व SAI प्रमुख नीलम कपूर: यौन उत्पीड़न के मामलों की संख्या पहले से ज्यादा बढ़ी!

असदुद्दीन ओवैसी ने सीडीएस जनरल बिपिन रावत से पूछा- अखलाक और पहलु खान के हत्यारों को कौन समझाएगा ?

निर्भया केस के दोषियों की फांसी क्यों टली!

पीएम मोदी का जन्मदिन आज, देश-विदेशों से मिली बधाईयां

चांद पर उतरते समय विक्रम का संपर्क टूटा

तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग मामले में एक और खबर ने मचाई सनसनी

भारत की दो महिलाओं ने चंद्रयान-2 मिशन में निभाया अहम रोल

पटाखा फैक्ट्री में लगी आग

असम में अस्पताल की बड़ी लापरवाही

चूड़ियों से गणेश की मूर्ति तैयार

आज चाँद पर उतर जायेगा भारत का यान

नवरात्रि के मौके पर सूरत में टैटू की बढ़ी मांग

जिंदाबाद और अमर रहे के नारे शहीदों के परिवारों और बच्चों के खाली पेट नहीं भर सकते ।”